#Bhajan #Spritual हर रूप रंग में ढंग में तूँ नहरों नदियों में तरंग में तूँ, है परम् पिता जगदीश हरे प्रभु प्रेम उमंग में तूँ ही तूँ | तेरा सात स्वरों में है रूप मधुर, बन कृष्ण धरे मुरली को अधुर, तारों में तेरा रूप सुघर, तट नीर तरंग में तूँ ही तूँ || #ShriVishnu #JaiHari

5:00 PM · Jun 27, 2022

0
0
0
8